लंड वृद्धि उत्पाद: क्या ये काम करते हैं?

क्या आप लंड के आकार को बढ़ाने का दावा करने वाले उत्पादों की तरफ आकर्षित होते हैं? इस तथ्य के बारे में जानकारी प्राप्त करें कि मर्दानगी बढ़ाने वाली गोलियां, पंप, व्यायाम और सर्जरी से आपकी क्या अपेक्षा होनी चाहिए.

हालांकि, लंड को बढ़ाने के नॉनसर्जिकल तरीकों को वैज्ञानिक ज्यादा समर्थन नहीं प्रदान करते हैं और कोई सम्मानित चिकित्सा संगठन पूरी तरह से बस दिखावे के लिए लंड की सर्जरी की अनुशंसा नहीं करता है. लंड-विस्तार उत्पादों और प्रक्रियाओं के विज्ञापन हर जगह भरे पड़े हैं. पंप, गोलियाँ, वेट, व्यायाम और सर्जरी आदि आपके लंड की लंबाई और मोटाई बढ़ाने का दावा करते हैं.

अधिकांश विज्ञापित तकनीकें अप्रभावी ही होती हैं, और कुछ तो आपके लंड को नुकसान भी पहुंचा सकती हैं. इसलिए किसी भी उपाय को आज़माने से पहले दो बार सोचें.

लंड का आकार: क्या सामान्य है, क्या सामान्य नहीं है?

आपका लंड बहुत छोटा दिखता है या सेक्स के दौरान आपके साथी को संतुष्ट करने के लिए बहुत छोटा है, इस तरह के डर मर्दों के दिमाग में लगातार घर किए रहते हैं. लेकिन अध्ययनों से पता चला है कि ज्यादातर पुरुष जो अपने लंड को छोटा सोचते हैं, वास्तव में उनका लंड सामान्य आकार का होता है.

इसी तरह के अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि कई पुरुष “सामान्य लंड ” के आकार की परिभाषा को बहुत ही बढ़ा चढ़ा के देखते हैं.

एक ढीले लंड की लंबाई से खड़े लंड का अनुमान नहीं लगाया जा सकता है. यदि आपका लंड खड़ा होने पर लगभग १३ सेमी (५ इंच) लंबा होता है, तो यह सामान्य आकार का होता है.

एक लंड को असामान्य रूप से छोटा माना जाता है, यदि खड़े होने पर इसकी लम्बाई ३ इंच से कम (लगभग ७.५ सेंटीमीटर) होती है, तो इसे माइक्रोपिनिस के नाम से जाना जाता है.

आपकी साथी लंड के आकार को कैसे देखती है

विज्ञापन करने वाले लोग आपको इस बात पर विश्वास दिलवाएंगे कि आपकी साथी लंड के आकार के बारे में परवाह करती है. इसलिए यदि आप चिंतित हैं, तो सीधे अपने साथी से बात करें.

याद रखें कि आपके साथी की जरूरतों और इच्छाओं को समझना आपके लंड के आकार को बड़ा करने की इच्छा की तुलना में आपके यौन संबंधों में सुधार लाने की ज्यादा क्षमता रखता है.

प्रचारों पर विश्वास न करें

कंपनियां कई प्रकार के नॉनसर्जिकल लंड-वृद्धि उपचार प्रदर्शित करती हैं, और अक्सर उन्हें बहुत ही गंभीरता से विज्ञापित करती हैं, विज्ञापनों में वे “वैज्ञानिक” शोधकर्ताओं आदि के समर्थन भी शामिल करती हैं.

बारीकी से देखें – आप देखेंगे कि इन उत्पादों में सुरक्षा और प्रभावशीलता के दावों को सिद्ध नहीं किया गया है.

बाज़ारू लोग प्रशंसापत्रों पर भरोसा करते हैं, पहले और बाद की संदिग्ध तस्वीरें और विश्वास में आने योग्य डेटा. डाइटरी सप्लीमेंट्स को खाद्य एवं औषधि प्रशासन द्वारा अनुमोदन की आवश्यकता नहीं होती है, इसलिए निर्माताओं को सुरक्षा या प्रभावशीलता साबित करने की जरूरत ही नहीं पड़ती है.

लंड वृद्धि उत्पाद

अधिकतर विज्ञापित लंड-विस्तारक विधियां अप्रभावी हैं, और उनमे से कुछ आपके लंड को स्थायी नुकसान पहुंचा सकती हैं. यहां कुछ व्यापक रूप से प्रचारित उत्पाद और तकनीकें हैं:

● गोलियाँ और लोशन. इनमें आमतौर पर विटामिन, खनिज, जड़ी बूटी या हार्मोन होते हैं जिनके बल पर निर्माता लंड को बड़ा करने का दावा करते हैं. इनमें से कोई भी उत्पाद कारगर साबित नहीं हुआ है, और कुछ तो हानिकारक भी हो सकते हैं.

● वैक्यूम पंप. चूंकि पंप लंड में रक्त को खींचते हैं, जिससे लंड में सूजन आ जाती है, कभी-कभी पम्प का इस्तेमाल कड़ेपन की समस्या में भी किया जाता है. एक वैक्यूम पंप की मदद से लंड अस्थायी रूप से बड़ा दिख सकता है. लेकिन इसका बहुत बार या बहुत लंबे समय तक उपयोग करने से लंड के लोचदार ऊतकों में क्षति हो सकती है, जिससे कड़ेपन की समस्या आ सकती है .

● व्यायाम. कभी-कभी इसे जेलकिंग के नाम से जाना जाता है, ये अभ्यास लंड की शुरुआत से लंड के टोपे तक रक्त को दोनों हाथों के प्रयोग से धक्का देने की प्रक्रिया है. यद्यपि यह तकनीक अन्य विधियों की तुलना में सुरक्षित दिखाई देती है, लेकिन इसके कारगर होने का कोई भी वैज्ञानिक सबूत मौज़ूद नहीं है, और इससे लंड के टोपे में घाव, दर्द या लंड की आकृति में विकृति भी आ सकती है.

स्ट्रेचिंग. खिंचाव में एक स्ट्रेचर या एक्स्टेंडर डिवाइस को जोड़ा जाता है – जिसे लंड के कर्षण उपकरण के रूप में भी जाना जाता है – यह लंड पर हल्के तनाव को डालता है. कुछ छोटे अध्ययनों ने इन उपकरण के प्रयोग से लगभग आधे इंच से २ इंच (लगभग १ से ३ सेंटीमीटर) तक की लम्बाई बढ़ने की पुष्टि की है. इसकी सुरक्षा और प्रभावशीलता को सही से सिद्ध करने के लिए बड़े और अधिक कठोर अनुसंधान की आवश्यकता है.

FREE Fast Shipping offer for our readers:

  • पहले और दूसरे सप्ताह में:
    कड़ापन लम्बे समय के लिए कठोर बन जाता है, लिंग की संवेदनशीलता २ गुना तक बढ़ जाती है. परिणाम नज़र आने लगते हैं – क्योंकि आपके लिंग का आकार १.५ सेमी. तक बढ़ चुका होता है.1
  • दूसरे और तीसरे सप्ताह में:
    पहले से आपके लिंग में आकार वृद्धि दर्शित होने लगती है, यह संरचनात्मक रूप से एकदम सटीक बन जाता है. सम्भोग का समय ७०% तक बढ़ जाता है!2
  • चौथे सप्ताह में और उससे आगे:
    लिंग ४ सेमी. तक बढ़ जाता है! सम्भोग का आनंद पहले से और भी अच्छा हो जाता है. ओर्गेज़्म लम्बे समय के होते हैं जो कि ५-७ मिनट तक चलते हैं!

सर्जरी जोखिम भरी है और इसके कारगर होने की भी कोई गारंटी नहीं है

लंड को बढ़ाने की उपलब्ध शल्य चिकित्सा तकनीकों के अध्ययनों में सुरक्षा, प्रभावशीलता और संतुष्टि के मिश्रित परिणाम प्राप्त हुए हैं.

सबसे अच्छा, सस्पेंसरी लिगमेंट के विभाजन से ढीले लंड की आकृति में आधा इंच (१ सेंटीमीटर) की वृद्धि हो सकती है लेकिन लंड की वास्तविक लंबाई में कोई भी परिवर्तन नहीं दिखाई पड़ता है. सबसे बुरी स्थिति में, सर्जरी के परिणामस्वरूप संक्रमण, घाव की परेशानी हो सकती है, और इससे भी बुरी स्थिति में तो लंड काम करना ही बंद कर सकता है.

लंड वृद्धि के सर्जिकल तरीके – कॉस्मेटिक उपयोग के लिए प्रभावी नहीं

लंड के आकार को सर्जरी के माध्यम से बढ़ाने की आवश्यकता बहुत ही कम होती है. आमतौर पर सर्जरी उन पुरुषों के लिए होती है जिनके लंड जन्म दोष या चोट के कारण सामान्य रूप से काम नहीं करते हैं.

हालांकि कुछ सर्जन विभिन्न तकनीकों का उपयोग करके कॉस्मेटिक लंड वृद्धि की सुविधा प्रदान करते हैं, लेकिन यह विवादास्पद है और कई मामलों में अनावश्यक होने के साथ-साथ स्थायी रूप से क्षति पहुचाने वाली भी होती है. इस सर्जरी को प्रयोगात्मक माना जाना चाहिए. लंड के आकार को बढ़ाने वाली सर्जरी के जोखिम और लाभ की सटीक तस्वीर देने के लिए पर्याप्त शोध मौज़ूद नहीं हैं.

लंड की लम्बाई को बढ़ाने के सबसे व्यापक तरीके में शल्य चिकित्सा के माध्यम से सस्पेंसरी लिगामेंट को अलग कर देते हैं जो लंड को प्यूबिक हड्डी से जोड़ता है और पेट से त्वचा को निकालकर लंड के आधार में लगा देते हैं. जब यह लिगमेंट काटा जाता है, तो लंड के अधिक लटकने की वजह से यह अधिक लम्बा दिखाई देता है.

लेकिन सस्पेंसरी लिगमेंट काटने से खड़े लंड में अस्थिरता आ सकती है. कभी-कभी सस्पेंसरी लिगमेंट को अलग करने के साथ-साथ अन्य प्रक्रियाओं को भी जोड़ा जाता है, जैसे कि प्यूबिक हड्डी से अतिरिक्त वसा को हटा देना आदि.

लंड को मोटा बनाने की प्रक्रिया में शरीर की अन्य मोटी मांसपेशियों से वसा लेकर उसे लंड के शाफ्ट में डाल दिया जाता है. हालांकि इसके परिणाम निराशाजनक हो सकते हैं, क्योंकि इंजेक्शन वाली वसा को शरीर द्वारा फिर से अवशोषित किया जा सकता है. इससे लंड में वक्रता, विषमता या अनियमित आकार जैसी समस्यायें आ सकती हैं.

मोटाई बढ़ाने की एक और तकनीक में लंड के शाफ्ट पर बाहर से टिश्यू लगा दिए जाते हैं. इनमें से कोई भी प्रक्रिया सुरक्षित या प्रभावी साबित नहीं हुई है. ये प्रक्रियायें मर्दानगी और कड़ेपन की क्षमता को प्रभावित कर सकती हैं.

कुछ चीजें जो वास्तव में आपकी मदद कर सकती हैं

यद्यपि लंड को बढ़ा करने का कोई भी १००% सुरक्षित और प्रभावी तरीका मौज़ूद नहीं है, लेकिन यदि आप अपने लंड के आकार के बारे में चिंतित हैं तो आप इन कुछ चीजों को आज़मा सकते हैं.

● अपने साथी से बात करें. पुरानी आदतों को छोड़ना या अपने साथी के साथ यौन विषय पर चर्चा करना मुश्किल हो सकता है. लेकिन एक बार इस विषय पर बात करने के बाद आप खुश ही होंगे कि आपने ऐसा कदम उठाया – और इसमें कोई भी आश्चर्य नहीं है कि इस कार्य से आपके यौन जीवन में चार चाँद लग जाएँ.

● बॉडी के आकार को सही करें और पेट के मोटापे को कम करें. यदि आपका वजन अधिक है और “पेट निकला” हुआ है, तो इसके चलते आपका लंड छोटा दिखाई दे सकता है. नियमित अभ्यास एक बहुत बड़ा अंतर डाल सकता है. बेहतर शारीरिक कंडीशनिंग न केवल आपको बेहतर दिखा सकती है, बल्कि सेक्स के दौरान आपकी ताकत और सहनशक्ति में भी सुधार कर सकती है.

● अपने डॉक्टर या परामर्शदाता से बात करें. अपने लंड के आकार के बारे में नाखुश महसूस करना बहुत ही आम बात है. इसमें एक प्रमाणित परामर्शदाता, मनोवैज्ञानिक, मनोचिकित्सक या आपका परिवारिक डॉक्टर मदद कर सकता है.

कई पुरुष आश्वासन मिल जाने पर बेहतर महसूस करने लगता हैं कि उनका आकार “सामान्य” है और कॉस्मेटिक लंड वृद्धि के उपयोग को किए बगैर ही वे अपने साथी को बेहतर तरीके से संतुष्ट कर सकते हैं.

अंतिम सलाह

बहुत से लोग मानते हैं कि लंड के आकार में वृद्धि से वे बेहतर प्रेमी या अधिक आकर्षक बन जायेंगे. लेकिन इस बात कि अधिक संभावना है कि आपका लंड पहले से ही सामान्य आकार का है.

यहां तककि यदि आपका लंड औसत से छोटा भी है, तो भी इससे आपके साथी पर कोई फर्क नहीं पड़ता. इसके अलावा, लंड को बड़ा बनाने का कोई भी सिद्ध तरीका मौज़ूद नहीं है.

लंड के आकार के विषय में आयीं आपकी चिंताओं का समाधान आप अपने साथी के साथ बात करके या शरीर को शेप में लाकर आसानी से प्राप्त कर सकते हैं. यदि आपके यह प्रयास आपकी मदद नहीं करते हैं, तो अपनी चिंताओं के विषय में किसी पेशेवर परामर्शदाता से बात करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.